UP Shadi Anudan 2021 – उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान ऑनलाइन

UP Shadi Anudan Scheme के तहत उत्तर प्रदेश में नवविवाहित जोडे को अनुदान दिया जा रहा है । राज्य सरकार ने नागरीको के लिये विवाह अनुदान योजना का ऑनलाइन आवेदन आरम्भ कर दिया हैं।

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने इस योजना के तहत गरीब परिवारों को आर्थिकसहायता देने का प्रावधान रखा गया है। उत्तर प्रदेश सरकार आपने राज्य के निवासीयो के लीये तथा राज्य के आम जनता के लिये, सरकारी कामकाज आसानबनाने में प्रयास कर रहे है। इस प्रयासो में उत्तर प्रदेश सरकार अधिक से अधिक सरकारी कार्यो को ऑनलाईन करणे में लगा है ।

UP Shadi Anudan योजना में गरीब परिवारों की बेटियों के विवाह के लिए सरकार द्वारा आर्थिक मदद दी जाएगी। उत्तर प्रदेश सरकार इस Shadi Anudan योजना केमाध्यम से बहुत से परिवारों को आर्थिक तथा भौतिक लाभ पहुंचा रही है।

अगर आप भी विवाह अनुदान योजना का लाभ लेना चाहते है, और आप योजना से जुडी पात्रताये पूर्ण करते है तो आप इस योजना का लाभ उठा सकते है। इस योजना के आधिकारिक वेबसाईट पर जाकरआप भी आवेदन पत्र जमा कर योजना से जुड़ सकते हैं।

UP Shadi Anudan योजना का परीचय:

आज हम आपको बताएंगे की इसयोजना से जुड़ी महत्वपूर्ण बाते क्या हैं। व आप अपना आवेदन करके इस योजना के लिये पंजीकरण कैसे कर सकते हैं। तो आप यह लेख ध्यान से पढ़े। ताकि आप भी योजना का लाभ ले सकें।  उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ जी, प्रदेश की उन्नति के लिया अनेको प्रयास कर रहे है।

इसी दिशा में उत्तर प्रदेश के नागरिकों के लिए, बहुत सी योजनाओं का गठन किया गया है। जो को ऑनलाईन तरीकेसे आप आपने घर बैठे उपभोग सकते है । उन्हीं में से एक शादी के लिये अनुदान कि योजना को स्थान (उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान) दिया गया है।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के तहतऐसे परिवार जो गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन कर रहे हैं, या अनूसुचित जाति अथवा अनूसुचित जनजाति श्रेणी से हैं। या वे अन्य पिछड़ा वर्ग, सामान्य वर्ग और अल्पसंख्यक वर्ग के परिवार से हैं। ऐसे परिवारों को बेटी के शादी का खर्चा उठाने में मदत में 51,000 रुपये की आर्थिक सहाय्यता दी जाएगी।

योजना  का नाम  उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना
आरम्भ की गयी उ. प्र. केमुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी
राज्य   उत्तर प्रदेश
आर्थिक मदद    धनराशि ₹51000 रुपये
योजना स्तिथी   शुरू
अवदान कैसे करे    ऑनलाईन
आधिकारिक वेबसाईट       shadianudany.upsdc.gov.in

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान की अन्य जानकारी:

हमारे देश के संविधान के अनुसार विवाह करने की आयु स्त्री – पुरुष के इये निश्चित की गयी है। संविधान के नियमो का पालन करते हुये उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के अनुसार , आवेदन कर्ता कन्या की आयु विवाह के समय कमसे कम 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। वही वर की लाडके कि आयु भी कमसे कम 21 वर्ष या फिर उससे ज्यादा होनी चाहिये, यहअनिवार्य है।

यादी कन्या और लडके कि आयु उपर दिये गये आकाडो से कम है, तो वह आवेदन कर्ता इस योजना के लिये पात्र नही समझा जायेगा । और ऐसे में शादी करणे वाले जोडे तथा उनके परिवार को कम उम्र में शादी करणे या फिर कारवाने के जुर्म में सजा भी हो सकती है ।

कुटुंब नियोजन कि योजना को सफल बनणे के लिये इस योजना को सहारा दिया गया है ।एक हि परिवार में सिर्फ दो कन्याओ का आवेदन इस योजना के लिये स्वीकृत होगा। ऐसे में अगर आपके यहाँ दोसे अधिक कन्याये है, तो आप किसी दो कन्याओ के लिये हिआवेदन कर सकते है। यानी कहने का मतलब ये को आपको सिर्फ दो कन्याओ के लिये हि उत्तर प्रदेश Shadi Anudan योजना का लाभ मिलेगा।

इस योजना के लिये जनता के निवास स्थान को भी महत्व दिया गया है। सरकार याह जानती है कि शहरी और ग्रामीण भागो में शादी कि रस्मे तथा पद्धतीया अलग अलग होती है । इस वाजह से इन दोनो भागो में खर्चा भी अलग अलग लागता है ।इसी कारण वश वित्तीय सहायता के लिए शहरी और ग्रामीण परिवारों के लिए आय के मापदंड अलग तथा भिन्नरखे गए

है। जैसे ग्रामीण आवेदक परिवार के लिए वार्षिक आय 46080(छयालीस हजार अस्सी )रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।यह आय अगर इस आकडे को पार करती है तो वह अवेदक इस योजना कोपात्र नही होगाजो को अपात्र समझा जायेगा।

ऐसे में शहरी परिवार के लिए वार्षिक आय 56460(छप्पन हजार चार सौ साठ)रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए यह प्रतिबंधक नियम लगाये गये है। जिन आवेदकों के परिवार की वार्षिक आय दी मर्यादित कि गयी है, उन्हें उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना से कोई लाभ प्राप्त नहीं होगा जो को अपात्र समझा जायेगा।

हमारे देश में शुरू से कन्याओको परखो के रूप में देखा जाता आ रहा है । ऐसे में अगर इस योजना का सही तरीकेसे अंमल होगा तो लडकियो के जन्म से नकारात्मक भाव कम होने में मदद मिलेगी। आज भी हमारे यहां कन्या के जन्म से ही उनके विवाह के बारे में सोच कर परिवार परेशान होने लगते हैं। लाडकी के शादी में बहुत खर्चा करणा पडेगा इस कारण से कई लोग तो कन्या के जन्म पर हि उंगली उठते है ।

यही आज के समाज में एक नकारात्मक सोच है। सरकार की उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना से आशा है की इस सोच में बदलाव आये। कन्या के जन्म का स्वागत लडको के जन्म कि तरह किया जाये ।इस अनुदान योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर्ता के पास उसका आपनाबैंक अकाउंट भी होना चाहिए।

क्योंकि उत्तर प्रदेश Shadi Anudan योजना के अंतर्गत, दी जाने वाली धनराशि आवेदक के बैंक खाते में सीधे आरटीजीएस के माध्यम से भेज दी जाएगी। ताकि उन्हें किसी भी परेशानी का सामना न करना पड़े, उनके शादी के रस्ते में कोई बाधा ना आये ।

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के लिये आपके पास बँक का खाता होनाआवश्यक है, वह बैंक खाता राष्ट्रीयकृत बैंक का होना जरूरी है। क्योको सरकार को आपके बँक खाते में धन राशी भेजने में आसनी हो सके ।इस योजना के लिए और एक बात का खास ध्यान रखे कि आप तभी आवेदन करें जब कन्या का विवाह निश्चित हो गया हो, होणे वाला है इस आधार पार नही ।

योजना के अनुसर निश्चित कि गयी राशी विवाह के समय ही अवेदक के बँक खाते में सौंपी जाएगी। अगर आप भी आवेदन करना चाहते हैं तो विवाह होने से पूर्व 90 दिन या विवाह होने के बाद 90 दिन कि अवधी के दौरान कर सकते हैं। जिससे आपको योजना का योजना के अनुसार पूर्ण लाभ मिल सके।

उ. प्र. शादी अनुदान योजना को आवेदन कैसे करे?

  • उत्तर प्रदेश के जो नागरिक Shadi Anudan योजना में आवेदन करना चाहते है, तो आपके लिये नीचे दि गयी प्रक्रिया को विस्तार से पढे।ताकि आप भी अपना आवेदन खुद से भर पाएं।
  • सबसे पहले आप अपने कॉम्पुटर पर ब्राउजर खोले ।
  • सर्च बॉक्स में http://shadianudan.upsdc.gov.in/ टाईप करे ।
  • अब आप विभाग द्वारा दी गयी ऑफिसियल यानी आधिकारिक वेबसाइट पर आ चुके है ।
  • इसके बाद पंजीकरण करणे के लिये विकल्प चुने। जिस वर्ग से आप सम्बंधित है उसे चुने।
  • जैसे हि आप किसी पर्याय पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा।कृपया आवेदन फॉर्म में पूछी गयी जानकारी भरें ।साथ ही मांगे गए दस्तावेज अपलोड करके संलग्न करें।
  • अब आखिर में सबमिट बटन पर क्लिक करके। इसके बाद आपका आवेदन पत्र जमा हो जायेगा।
  • वही पर आपको प्रिंट का ऑप्शन भी मिलेगा । उसकी सहाय्यता से आप अपने आवेदन का प्रिंट लें सकते है । इस प्रिंट कि आपको भविष्य में जरूरत पड़ सकती है।
  • आवेदन पत्र का रिफरेन्स नंबर भी आवेदन कि स्तिथी जानने में आपकी मदद करेगा । इसी नंबर से आप अपने आवेदन के बरे में जान सकेंगे कि, आवेदन कहा तक पहुंचा है, अगरकही कोई समस्या आयी तो ये नंबर आपकी सहाय्यता करता है ।
  • यदीआपने पहले ही अपना आवेदन पत्र जमा कर दिया हैं, तो आप होमपेज पर नीचे दिए गया विकल्प ‘आवेदन पत्र की स्थिति’ पर क्लिक करे । यहाँ पर पुछी गयी जानकारी को भरकर यानी आपको अपना आवेदननंबर , बैंक खता नंबर और पासवर्ड डाल कर लॉगिन करना होता है । आपको आपके आवेदन कि स्थिति पता चल जाएगी।
UP Shadi Anudan Yojana Application Process

पंजीकरण फॉर्म में आपको सभी जरुरी जानकारी अच्छे से दर्ज करनी होगी:आवेदक का नामआवेदक का फोटोआवेदक का लिंगआवेदक के पिता या पति का नामईमेल आईडीवैकल्पिक है क्षेत्र, तहसीलजन्म तिथी जाति प्रमाण पत्र संख्यादस्तावेज अपलोड करतो वक्त वह JPEG format हो ।

पहचान पत्र की फोटो कॉपीपुत्री का नामपुत्री का फोटोपुत्री की शादी की तिथिपुत्री के पिता का नामबँक कि जानकारी बैंक का विवरणमोबाइल नंबरयदि आवेदक विद्या विकलांग है तो उसका प्रमाणपत्रवर्ग जाति का प्रमाणपत्रवार्षिक आय का विवरणशादी का निमंत्रण पत्रशादी का विवरण

UP Shadi Anudan विवाह अनुदान योजना के लाभ:

  • इसयोजना का लाभ, गरीबी परिवार की कन्याओं को मिलेगा, इस योजना कि पात्रताओ पे खाडी उतरेंगी ।साथ हि परिवार भी उन पात्रताओ कि पुर्ती कर्ता हो ।
  • उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना में अनुसूचित जाती (SC), अनुसूचित जनजाति (ST), अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC), सामान्य वर्ग(General) और अल्पसंख्यकों (Minority) को शामिल किया गया है। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग तथा जो आपनी विवाह का खर्चा नही उठा सके उनके लिए यह योजनाबहुत लाभकारी योजना है।
  • सरकार इस योजना से समाज की कन्याओ के बरे में पिछड़ी और नकारात्मक सोच को बदलना चाहती है। अगर आप भी योजना से जुड़ना चाहते है तो उत्तर प्रदेश Shadi Anudan योजना के आधिकारिक पोर्टल पार जाकर आवेदन करें।  ऑनलाइन आवेदन करणे कि प्रक्रिया भी बहुत ही सरल है।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना की पात्रताये नीचे दिये गये अनुसार है :

  • आवेदन कर्ता उत्तर प्रदेश का स्थाई और स्थानीयनिवासी होना अनिवार्य है।
  • योजना के लिए BPL (Below poverty line) यानी जो परिवार गरिबी रेखा के नीचे वाले वर्ग के लोग अथवा समाज में पिछड़ी जाति सम्बन्धित परिवार ही लाभ ले सकते हैं।
  • आवेदन करणे वाले परिवार की आय उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना में निहित कि गयी है, उसके हिसाब से ग्रामीण क्षेत्र में 46080 रुपये प्रति वर्ष होनी चाहिये, या फिर इन आकडो से नीचे होनी चाहिये। तथा शहरी परिवार की आय 56460 रुपये या उससे कम होनी चाहिये जो कि प्रति वर्ष हो ।
  • भारतीय कानून के हिसाब से इस योजना में भी कन्या की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। वहीं उसके वर की आयु 21 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए।

आपणे देश में कन्या का विवाह परिवार कि हैसियत सेजुडा गया है । ऐसे मेंगरीब माता पिता के लिए कन्या विवाह अपने आप में चिन्ता का विषय बन जाता है। जो परिवार अपनीकन्या का विवाह धूमधाम से करते है उनका समाज में स्थान बढ जाता है ।

ऐसे में वह परिवार कर्ज लेकर कर्ज के तले दब जाते है । उसके बाद अनेक समस्याये भी निर्माण हो सक्ती है । कोई भी परिवार चाहेगा को वह अपनी बेटी को ख़ुशी से विदा कर पाएं। इसलिये वह परिवार को कर्ज लेने की आवश्यकता ही नहीं पड़े, इसलिये उत्तर प्रदेश सरकार ने यह Shadi Anudan योजना को शुरू किया है

सरकार की इस आर्थिक मदद से गरीब माता पिता को अपनी कन्या का विवाह करने में कोई समस्या निर्माण नही होगी तथा उन्हे राहत मिल जाएगी। उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के मध्यम सेसमाज में कन्या को बोझ नहीं समझ जायेगा तथा उनके जन्म को नकारात्मक भाव से नही देखा जायेगा।

UP Shadi Anudan शादी अनुदान योजना : दस्तावेज:

UP Shadi Anudan – यू.पी. विवाह योजना मैं ऑनलाइन आवेदन करने के लिए लगने वाले जरूरी दस्तावेज नीचे दिए गए लिस्ट को जाँचे।

  • आधार कार्ड (AADHAR Card Or Its ID)
  • आयु प्रमाण पत्र (Age Certificate Or Birth Certificate )
  • जाति प्रमाण पत्र (Cast Certificate)
  • पहचान पत्र (Identity Card, Instead Of AADHAR)
  • पारिवारिक आय प्रमाण पत्र (Income Certificate)
  • पासपोर्ट साइज फोटो (Photo)
  • बैंक खाते की जानकारी (Bank Pass Book)
  • मोबाइल नंबर (Contact Number)
  • शादी से जुड़े प्रमाण पत्र (Invitation Card)

आवेदन कि श्रेणीया

  • उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना केआवेदन को तीन श्रेणी में विभाजित किया गया है।इसका उद्देश सिर्फ हर नागरिक को उनकी आय के हिसाब से तहत सही प्रमाण में आर्थिक सहाय्यता प्रदान करना है ।
    • समान्य , अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति आवेदन पत्र। 
    • अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी आवेदन पत्र। 
    • अल्पसंख्यक वर्ग श्रेणी आवेदन पत्र।
  • उपरोक्त तीन पर्याय आपको उ. प्र. शादी अनुदान योजना के आधिकारिक पोर्टल पर मिल जायेंगे।

UP Shadi Anudan समस्या का समाधान – हेल्पलाइन नंबर:

इस योजना से जुडी कोई भी समस्या आपके सामने आती है तो, आप नीचे दिया गये मध्यामोसे अपनी समस्या का समाधान कर सकते है ।

Helpline number – 1800 -419 -00011800 -180 -5131

Deputy Director No. 0522- 2288861

Deputy Director Number : 0522 – 2286199

2 thoughts on “UP Shadi Anudan 2021 – उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान ऑनलाइन”

Leave a Comment