UP Kanya Sumangala Yojana – कन्या सुमंगला योजना 2021

MukhyaMantri kanya sumangala yojana (MKSY) उत्तर प्रदेश सरकारअपनी जनता के लिये अनेक योजनाओ को निर्माण कर रहा है । इस योजना के उत्तर प्रदेश सरकार ने एक और योजना को शामिल किया है । इस नयी योजना का नाम है, ‘कन्यासुमंगला योजना’ ।

हमारे देश में पूर्वापार से पुरुषप्रधान व्यवस्था होणे के कारण, महिलाओको दुय्यम दर्जा दिया गया है । इसका करण सिर्फ देश के कूच संकुचीत सोच रखने वालेहै, जिनकी विचारधारा, पुरानी विचार धाराओसे संबंधित है ।

इस सोच में कन्या का जन्म शुभ न मानना, उसकी शिक्षा को ना कहना, कन्या ने शिक्षा लेकर क्या करना है, घर हि तो संभालना है, आदीविचार शामिल होते है ।

कन्या कि शादी को तो लोग बहुत हि बुरे नजर से देखते है । उनको लगता है की, कन्या कि शादी में बहुत हि खर्चा आयेगा, इस कारन से हमारे देश में कन्याओ के भ्रूण कि हत्या कि जाती है ।

हलकी कि ऐसे में सिर्फ कन्या के मातापिता या परिवार को हि दोषी नही ठहराया जाना हि उचित नही, अपितु वर पुरुष और उसके परिवार को भी गलतऔर दोषी समझना उचित है । क्यो को दहेज की मंग भी तो लडके का परिवार हि करता है ।

कन्या सुमंगला योजनापरिचय Kanya Sumangala Yojana

इन सबपर उपाय करणे के लिये उत्तर प्रदेश सरकार ने कानून बनाने के साथ साथ कन्याओ के जन्म को बढावा देणे के लिये यह ‘कन्यासुमंगला योजना’ का शुभारंभ किया है ।

Introducing UP Kanya Sumangala Yojana quick information in table forat. मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का परिचय पढिए टेबल फॉर्मैट मैं। जाने पूरी जानकारी एक टेबल से।

(MKSY) योजना मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना
लाभार्थी     उत्तर प्रदेश के नागरिक
शुरुवात/ शुभारंभ  २५ ऑक्टोबर २०१९
किसके द्वारा मा. आदित्यनाथ योगी जी
मंत्रालय एवं विभाग    महिला एवं बाल विकास विभाग, उत्तर प्रदेश
उद्देश्य कन्याओ को आपनी शिक्षा तथा उच्च शिक्षा के लिये आर्थिक सहाय्यता प्रदान करना।
किश्ते     6
आधिकारिक वेबसाईट https://www.mksy.up.gov.in
UP Kanya Sumangala Yojana – कन्या सुमंगला योजना 2021
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने UP Kanya Sumangala Yojana को शुरू करणे से उत्तर प्रदेश में कन्या भ्रूर्ण हत्या के स्तर में कमी देखी गयी है।
  • इस योजना के चालते जो परिवार अपनी बेटियो को बोझ समझते थे अपितु परको का धन मानते थे, उनकी भी विचारधारा अब बदलने लगी है। ऐसे लोगो को उत्तर प्रदेश सरकार आर्थिक मदद प्रदान करके उनकी सोच कोपरिवर्तन करने का प्रयास कर रहा है।
  • मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के नियमो के आधार पर कन्याके जन्म से लेकर उसके विवाह तक किश्तो के स्वरूप में आर्थिक मदद की जाएगी। 
  • हमारे देश में अनेक स्थानो पर बेटियों को आज भी हमारे समाज में बोझा समझा जाता है। ऐसे में गरीब परिवार इस विचार धारा के शिकार हो गये है ।
  • इस योजना से इनकी विचारधारा में कोई परिवर्तन होगा, इस तरहकि आस मन में जाग जाती है । इस योजना के परिणाम भी हमे देखणे को मिले है ।
  • उत्तर प्रदेश के राज्य सरकार के अंतर्गत आने वाला मंत्रालय, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा इस योजना का शुभारंभ कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश के अनेक परिवारो कि बेटीया इस योजना के लीये आवेदन कर के इस योजना का लाभ उठा रही हैं।
  • यादी आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो,  आप भी मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के लिये आवेदन कर सकतेहै।

कन्या सुमंगला योजना पंजीकरण – Kanya Sumangala Yojana Registration:

  • हाल हि मे उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चालायी जा रही ‘कन्या सुमंगला योजना’ के लिये पंजीकरण करणे के लिये २०२१ वर्ष के आवेदन शुरू किये गये है।
  • जो भी अपना आवेदन इस योजना के लिये भरणा चाहता है वहअपणा आवेदन जल्द से ज जल्द भरे । आवेदन भरने के बाद इस योजना के नियमो के अनुसार मिलने वाली वाली योजनाओ का तथा सुविधाओ का लाभ उठायें।
  • UP Kanya Sumangala Yojana यह योजना किसी भी परिवार के २ पुत्रियो के लिये है। यानी एक परिवार अगर दो से ज्यादा पुत्रीया है, तो उनमे से किसी भी दो पुत्रियो को हि इस योजना के लियेपात्र समझा जाता है ।
  • इसके पीछे का महत्वपूर्ण कारण यह है कि,सरकार लोकसंख्या नियंत्रण करणे के लिये आपने प्रयासो को पुरा करणे में लागा है । ऐसे में ‘हम दो, हमारे दो’ इस नीती को सही ढंग से लागू करणे के लिये सरकार ने सिर्फ दो पुर्तियो को हि लाभ देणे कि ठानी है ।
  • ‘कन्या सुमंगला योजना’ के नियमो के अनुसार जो कन्या इस योजना के लिये पात्र होंगी,उनके बँक के खाते में पंधराहजार (१५०००) रूपये तककी आर्थिक सहाय्यता प्रदान कि जाएगी।
  • उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री मा. योगी जी द्वारा ‘कन्या सुमंगला योजना’ को ‘उत्तर प्रदेश’ राज्य के क्षेत्र में लागू किया गया है।
  • UP Kanya Sumangala Yojana कि वजह से उत्तर प्रदेश कि बहुत सी कन्याओ को शिक्षा मिल रही है । शिक्षा मिलने के कारण से उनके पाव उज्वल भविष्य कि और चल रहे है ।

कन्या सुमंगला योजना’ से जुड़े लाभ:

  • उत्तरप्रदेश पहलेकन्याओ के भ्रूणो किहत्या के स्तर पर काफी गिरवट देखने को मिली है । इसका पुरा श्रेय इस योजना को यानी ‘कन्यासुमंगला योजना’को देना गलत नही होगा ।इस योजना के करणवश उत्तर प्रदेश में लिंग अनुपात में कमी आई है, जो कि पहले ज्यादा थी।
  • ‘कन्या सुमंगला योजना’ कोउत्तर प्रदेश राज्य में सफलतापुर्वक लागू करने के लिये उत्तर प्रदेश के राज्यसरकार ने १२०० करोड़ (बारासौ करोड) का अंतरिमबजट कि भी घोषणा कि है । इसके पीछे का उद्देश सिर्फ ज्यादा से ज्यादा उत्तर प्रदेश कि कन्याओ को इस योजना का लाभ मिल सके ।
  • ‘कन्या सुमंगला योजना’ के अंतर्गत धनराशीकोकन्या के कहते में उसके जन्म से लेकर उसके विवाह तक,  (१८ सालो तक) विभिन्नछेकिश्तोमें आर्थिक सहाय्यता से आर्थिक लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • उत्तर प्रदेश के जो भी परिवार इस योजना का लाभ अपनी कन्या को देनाचाहतें हैं, उनकोअपनी वार्षिक आय का प्रमाण पत्र को अपने पास रखना महत्वपूर्ण होगा। इस योजना का लीभ लेणे के लिये उस परिवार कि वार्षिक आय तीन लाख (३०००००) रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।अगर उस परिवार कि इस सीमा से उपर हो तो, वह इस योजना के लिये पात्र नही समझा जायेगा ।
  • UP Kanya Sumangala Yojana के लिये वही आवेदन कर सकते है, जो परिवार आर्थिक रूप से कमजोर हो, जो आपनी कन्याओ के शिक्षा ना दे सकते हो, अगरदे सकते है तो, अच्छी तरह कि नही दे सकते हो, ऐसे हि परिवार इस योजना का लाभ उठा सकते है ।
  • कन्याओ को शिक्षा लेते समय बहुत आर्थिक कठीणईयो का सामना करणा पडता है।लोग उनके शिक्षा पर खर्चनही करते अपितु उनकी शादी के लिये वह पैसा जमा करते है । इससे उनके स्वर्ण जैसे भविष्य को वो खुद अंधकार में ढकेल देते है ।
  • योजना के अनुसार लाभार्थी बेटी को आर्थिक रूप से 15000 (पंधरा हजार रुपये)रुपये तक की राशि 6 भागो में प्रदान की जाएगी।
  • जैसा कि उपर बताया गया है, उस हिसाब से हर परिवार केसिर्फ दोबेटीयो के लिए प्रदान कि गयी है।
  • अगर किसी परिवार में जुडवा बच्चे होते है, और उसके बाद एक और होता है, और वाह तीनो कान्याये है, तो उन तीनो को इस योजना का लाभ मिल सकेगा। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के नियमो में जुडवा बच्चो को एक बच्चा कहा गया है।
  • यादी कोई किसी कन्या को गोद ले लेता है, और उसे एक और कन्या है, तो सिर्फ इस दो कन्याओ को हि, इस का लाभ मिल साकेगा । कहने का तात्पर्य है की गोद लिये बच्चे को भी बच्च समझा जायेगा ।
कन्या सुमंगला योजना’ से जुड़े लाभ

हमारे देश में कन्या का जन्म होते हि, उसकी शादी एवं उसके लिये भविष्य में होणे वाले खर्चे कि चिंता करते है । उसकी के साथ साथ सामाजिक करणो कि वजह से भी, लोग कन्या के जन्म पर उतणे खुश नही दिखाई देते कि जितना के वह लडके के जन्म पर खुश होते है ।

हमारे समाज में जो परिवार अपनी कन्या कि शादी बडे शान- ओ- शौकत तथा धुमाधान से करते है, उनको समाज में महत्वपूर्ण स्थान मिलता है । उनका सन्मान समाज में बढ जाता है । हालकी यह सोच गलत है।

इन सब पर कूछ उपाय योजना करणे कि जरुरत थी । ऐसे में उत्तर प्रदेश में योगी जी के नेतृत्व वाले सरकार ने, अपने राज्य कि कन्याओ के लिये, ‘कन्या सुमंगला योजना’ कि शुरुवात २०१९ में कि थी ।

कन्या सुमंगला योजना के लिये पात्रता:- Kanya Sumangala Yojana Eligibility:

  • अगर आप भी UP Kanya Sumangala Yojana के लिये आपणा आवेदन या पंजीकरण करना चाहते हैं तो, आपको उत्तर प्रदेश का निवासी होना आवश्यकहै। इस बात का खास ध्यान राखे कि, इस योजना कोकेवल उत्तर प्रदेश जनता हि आवेदन कर सकती है ।
  • इसका मतलब कि आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थानीय एवं स्थायी निवासी होना चाहिये ।
  • उत्तर प्रदेश का हर परिवार जो, गरिबी कि रेखा से नीचे है, वह इसका लाभ ले सकता हा ।
  • जैसा कि उपर बताया गया है कि, अगर जुडवा बच्चे होते है तो उसको एक हि बच्चा समझा जायेगा ।
  • पैसो कि लालच से हि सही पर, कूछ लोग कन्याओ के जन्म को बढावा देसकते है ।

UP Kanya Sumangala Yojana कन्या सुमंगला योजना’जरुरी दस्तावेज:

  • आधार कार्ड

((Identity Card) पहचान पत्र के स्वरूप में/ आप वोटिंग कार्ड भी दे सकते है)

  • आय प्रमाण पत्र (Income certificate)
  • उत्तर प्रदेश स्थाई निवास प्रमाण पत्र(Residential Certificate)
  • गोद लेने के प्रमाण पत्र(Adoption Certificate)
  • जन्म प्रमाण पत्र (Birth Certificate)
  • बैंक खाते की जानकारी (Bank Passbook)
  • मोबाइल नंबर(Mobile Number)
  • राशन कार्ड (Ration card)

कन्या सुमंगला योजना’ आवेदन कैसे करे – Apply to Kanya Sumangala Yojana

  • सर्वप्रथमआवेदक को इस योजना के आधिकारिक वेबसाईट पर जाना होगा ।आधिकारिक वेबसाईट पर जाने के लिये नीचे दि गयी लिंक पर क्लिक करे । https://mksy.up.gov.in/women_welfare/index.php (MKSY Official Website)
  • उपरोक्त लिंक पर क्लिक करणे के बाद आप इस योजना के आधिकारिक वेबसाइट के होमपेज पर आयेंगे।
  • इस होम पेज पर आने के बाद आपको इस होम पेज पर ‘Citizen Service portal (Apply Here)’ या फिर ‘नागरिक सेवा पोर्टल (यहां आवेदन करे)’ येलिंक आपको देखणे को मिलेगी । इस लिंक पे एक बार क्लिक करना होगा।
  • इस लिंक पर क्लिककरणे के बाद आपके सामने एक नया पेज खूलजायेगा।
  • यह लिंक आपको आवेदन करणे के लिये ‘लॉग इन’ करणे वाले पेज तक ले जायेगा । आपको पंजीकरण यानी नया आवेदन भरणा है तो, आपकोकुछ ‘नियम और शर्ते’ वहां पर बताई जाती है । उनको ध्यान से पढे ।
  • उसके नीचे एक छोटे से बॉक्स पर यानी‘ I Agree’ पर क्लिक करणे के बाद, नीचे ‘कंटीन्यू’ पर क्लिक करे।
  • ‘कंटीन्यू’ पर क्लिक करणे के बादयहबटन आपको कन्या सुमंगला योजना’के आवेदन फॉर्म तक ले जयेगा ।
  • इस आवेदन फॉर्म पर आपसे जो भी पुछा जायेगा, उसकी सही सही जानकारी भरे। यह पुरी जानकारी आपके आवेदन के लिये महत्वपूर्ण है ।
  • पुरी जानकारी भरणे के बाद, आपको‘ओ. टी. पी.’ (OTP- one time password) के लिये अपील करणे के लिये‘send SMS OTP’ वाले बटन पर क्लिक करना होगा ।
  • उसपर क्लिक करणे के बाद आपके सामने एकनया पृष्ठ खुलेगा। यहां पर मोबाइल नंबर पे आय ओ. टी. पी. को भरे एवं आगे वाले बटन पर क्लिक करे ।
  • इतना सब करणे के बाद OTPद्वारा आपका मोबाइल नंबर पंजीकरण के लये समाविष्ट हो गया है ।
  • इसके बाद आपको आपका‘युजर आयडी’ एवं‘पासवर्ड’ के द्वारा आप आपणा खाता खोल कर, इस योजना को आवेदन कर सकते है ।
  • इसआवेदन पत्र में आपसे आपकी कन्या के बारे में पुछी गयी सारी जानकारी भरणी होगी ।
  • इस आवेदन में जहां जहां जरुरत के अनुसार दस्तावेजों को जोडने के लीये कहां गया है, वहां वहां दस्तावेजो को जोडे।
  • सबसे आखिर में एक बार सारी जानकारी सही से भरी है या नही, ये देखणे के लिये उसे दुबार से देखे, बादमे‘सबमिट’ बटन पर क्लिक करे ।
  • इस तरह से आपका आवेदन पंजीकरण के लिये साफलतापूर्ण तरीकेसेपूर्ण हो जायेगा।

इस वेबसाईट के होमपेज पर, यानी आवेदन भरणे से पहले आपको कुछ नियमो एवं शर्तो से आग किया जाता है । वह निम्न प्रकार है

  • जो भी मोबाईल नंबर अभी आपके पास अस्तित्व में है, वही नंबर इस आवेदन में भरे ।
  • आवेदक द्वारा भारी गयी जानकारी के अनुसार हि, लाभार्थी कन्या को मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का लाभ मिल साकेगा ।
  • आगर आवेदन में कही कोई भी तृटी पायी गयी तो, आपका आवेदन वहां हि खारीज या रद्द किया जायेगा ।
  • इस आवेदन में आपके मोबाईल नंबर के लिये पर्यायी नंबर देने को भी कहा गया है ।
  • अगरएक हि कन्या के दो दो आवेदन पाये जायेंगे तो दोनो हि रद्द या खारीज कर दिया जायेंगे ।

यादी आपको इस पोर्टल या योजना से कोई समस्या या शिकायत हो, तो आप इस पोर्टल के पर जाकर उनके प्रतीनिधियो से संपर्क कर सकते है ।

Leave a Comment